उपसर्ग की परिभाषा, भेद, और उदारहण | हिंदी व्याकरण 2022

उपसर्ग

उपसर्ग शब्द का अर्थ क्या है

उप+सर्ग  से मिल कर वना है उपसर्ग उप का अर्थ होता है समीप तथा सर्ग का अर्थ रचना करना 

  • इस  शब्द का अर्थ होता है समीप आकर नया शब्द बनाना। अर्थात उपसर्ग का अर्थ है किसी शब्द के समीप जाकर नए किसी शब्द साथ लगकर नया शब्द बनाता है।
  • ये हमेशा शब्दाश होते है 
  • ये हमेशा किसी शब्द के आगे /शुरू/आरम्भ /प्रारम्भ में लगाते है 
  • किसी शब्द में एक से अधिक उपसर्ग लगाये जा सकते है 
  • किसी समस्त पद में से मूल शब्द को निकालकर जो शब्द के आरम्भ में शेष भाग वचता है जिसका कोई अर्थ अवश्य हो 

उदहारण :- 

  • निरभिमान –निः+अभिमान 
  • प्रतिवर्ष –प्रति + वर्ष 
  • सुपुत्र –सु +पुत्र 
  • समाचार –सम + +आचार 
  • सुसंगठित –सु +सम+गठित 

उपसर्ग कितने प्रकार के होते है 

  •  संस्कृत में 22 संख्या है 
  • हिंदी में 10 या 12 संख्या  है 
  • उर्दू में  19 संख्या है 
  • अंग्रेजी में  8 संख्या है  

संस्कृत के उपसर्ग:- 

आ  आरक्षण ,आजीवन ,आमरण ,आजन्म 
अति अत्यधिक,अतिक्रमण,अतिशीघ्र,अत्यावश्यक 
अप  अपवाद ,अपहरण, अपशकुन,अपराध,अपभ्रश
 अभि अभियान,अभ्यास,अभिमान,अभिभाषण,अभ्यंतर,अभिनन्दन
प्रति  प्रतिद्वंदी,प्रतीक्षा,प्रतिदान,प्रतिहिंसा,प्रतिनिधि, प्रत्यक्ष
अव  अवतरण,अवसान,अवरोहन ,अवगुण अवकाश,अवनति
अधि  अधिमास,अधीक्षक,अधिसूचना,अधिपाठक,अधिकरण
उत उत्तम,उज्ज्वल,उत्पीडन, उल्लेख,उत्पात
सह सहचर,सहयोग,सहपाठी,सहमत,सहोदर

हिंदी के उपसर्ग:- 

उन  उन्नीस,उनतीस, उनसठ,उन्नासी
अथाह,अचेत,अछुता,
चौ चौकन्ना,चौरंगा,चौपाल,चौपाई,चौराहा
नि निहाल निक्कमा,निगोड़ा, निहत्था
 कु  कुरूप, कुचैला, कुचक्र,कुचाल, कपूत,  कुसंगति, कुकर्म,कुढंग,
ति तिराहा, तिपाई,तिरंगा, तिमाही,तिकोन
दु   दुर्जन, दुर्बल,दुपहरी, दुलारा,दुधारू,दुबला, दुसाध्य,दुरंगा,दुलत्ती,दुनाली,दुराहा 
अध् अधकचरा,अधपका ,अधमरा ,अधक्च्चा ,अधकचरा ,अधजला,अधखिला ,अधनंगा अधगला
उर्दू के उपसर्ग:- 
बमुश्किल, बदस्तूर,बगैर, बनाम,बदौलत, बखूबी, 
बद बदतमीज,बदनाम, बदहजमी, बदमाश, , बदबू, बदसूरत, बदकिस्मत, बदहवास,बददिमाग, बदमजा
हर हरसाल, हरवक्त,हरलाल,हररोज, हरघडी, हरबार,हरएक, हरदिन  
अल अलबत्ता,अलबेला,अलविदा 
दर  दरमियान, दरहकीकत,दरअसल, दरकिनार,दरकार, दरगुजर
 ला  लापरवाह, लापता,लाइलाज,लामानी,,लाजवाब, लावारिस, लाचार
बे   बेपरवाह, बेवक्त, बेतरह,बेईमान, बेरहम,बेनाम, बेहोश, बैचैन, बेइज्जत, बेचारा, बेवकूफ, बेबुनियाद
 ना नाचीज, नापसंद ,नालायक, नाकारा, नाराज, नामुराद, नाकामयाब, नाकाम,नासमझ, नाबालिक, नामुमकिन 
 खुश  खुसबू , खुशनसीब , खुशमिजाज , खुशदिल , खुशहाल , खुशखबरी
सर   सरदार, सरपंच,सरताज,सरहद, सरगना, सरकार  

अंग्रेजी के उपसर्ग:- 

जनरल जनरल सेक्रेटरी,जनरल मैनेजर,जनरल इंश्योरेंस
चीफ  चीफ सेक्रेटरी,चीफ मिनिस्टर ,चीफ इंजीनियर
 सब सब इंस्पेक्टर, सबजज, सबकमेटी, सबरजिस्टर सब पोस्टर
डिप्टी  डिप्टी मिनिस्टर,डिप्टी कलेक्टर, डिप्टी रजिस्टर
वाइस  उप वाइसराय, वाइस चांसलर, वाइस प्रेजिडेंट, वाइस प्रिंसिपल 
 एक्स  एक्स प्रिंसिपल, एक्सप्रेस, एक्स कमिश्नर, एक्स स्टूडेंट,

आओ इनको को भी  पढ़ते है 

 वर्णमाला: संज्ञा: सर्वनाम विशेषण :कालपर्यावाची :अलंकार 

error: Content is protected !!